Sunday, 17 October 2021

भारी बारिश का केरल में कहर, हुई अबतक 21 लोगों की मौतें

भारी बारिश का केरल में कहर, हुई अबतक 21 लोगों की मौतें

 केरल में भारी बारिश और भूस्खलन का क़हर जारी है। इस आपदा मरने वालों की संख्या अब 21 हो गई है। केरल के कोट्टायम में 13 और इडुक्की में 8 जनों के मरने की खबर है। राज्य के कुछ हिस्सों में बारिश और तेज हवाएं अब भी चल रही हैं।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

भारी बारिश के कारण कोट्टायम जिले के कूट्टिकल क्षेत्र में भूस्खलन और क्षति हुई है। बचाव कार्य अभी भी जारी है। केरल सरकार के अनुसार, कल इडुक्की के कोक्कयार में भूस्खलन के स्थान से तीन और शव बरामद हुए हैं। केरल में भारी बारिश, विनाशकारी भूस्खलन और कोट्टायम और इडुक्की जिलों में 21 लोगों की मौत के कारण पूरे केरल में कुल 105 राहत शिविर बनाए गए हैं।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बारिश जारी रहने के कारण जनता से और सतर्क रहने को कहा है। विजयन द्वारा जारी एक बयान में, उन्होंने लोगों से दुर्घटनाओं से बचने के लिए सावधानी बरतने और अधिकारियों के निर्देशों का पालन करने और यदि आवश्यक हो तो सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए कहा। उन्होंने लोगों से अनावश्यक यात्राओं से बचने की भी अपील की।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

आदत से मजबूर सिद्धू ने फिर किया लेटर अटैक, लिखा सोनिया को पत्र, कहा- कांग्रेस के पास आखरी मौक़ा

 

आदत से मजबूर सिद्धू ने फिर किया लेटर अटैक, लिखा सोनिया को पत्र, कहा- कांग्रेस के पास आखरी मौक़ा

कांग्रेस पार्टी आला कमान की हर बात मानने का बार बार वादा करने के बाद भी आदत से मजबूर नवजोत सिंह सिद्धू ने लेटर बम फोड़ने शुरू कर दिए हैं. इस बार उन्होंने सोनिया को पत्र लिखकर मिलने के लिए वक्त मांगा है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

सिद्धू ने अपने लेटर में 13 पॉइंट्स हाईलाइट किए हैं जिन्हें पंजाब सरकार को पूरा करने के लिए कहा है। सिद्धू के इस पत्र से साफ होता नजर आ रहा है कि सिद्धू के मन में मुख्यमंत्री न बन पाने की कितनी टीस है.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बात दें, सिद्धू द्वारा सोनिया गांधी को लिखा गया लेटर 15 अक्टूबर का है। जो सिद्धू ने रविवार को अपने ट्विटर हैंडल में शेयर किया है। इसमें 13 पॉइंट्स हाईलाइट किए गए हैं, जिन्हें लेकर कांग्रेस को काम करने के लिए कहा गया है। सिद्धू ने लिखा है कि यह कांग्रेस के पास अंतिम मौका है कि इन मुद्दों पर काम करें।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

वायु प्रदूषण शरीर के हर अंग को पहुंचाता है नुकसान

वायु प्रदूषण शरीर के हर अंग को पहुंचाता है नुकसान


इनिशिएटिव फाउन्डेशन इंडिया ने रविवार को लखनऊ के ताल कटोरा क्षेत्र में प्लेकार्ड के माध्यम से जागरूकता रैली निकाल लोगों को जागरूक किया। रैली की शुरुआत जय जगत पार्क से मीना बेकरी तक निकाली गयी। रैली में बच्चे सभी को जागरूक करते चल रहे थे।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

इनिशिएटिव फाउन्डेशन इंडिया की सदस्य गायत्री के नेतृत्व में बच्चों ने जय जगत पार्क में स्लोगन लिख प्लेकार्ड तैयार किया। “पटाखे जलाने से खुशिया नहीं बीमारी फैलती हैं” “वायु प्रदूषण जो तेजी से बढ़ रहा है, नई नई बीमारियाँ पैदा कर रहा हैं” “आओ हम सब मिलकर कसम ये खाये, वायु प्रदुषण को हम लखनऊ से दूर भगाये” जैसे संदेश देने वाले नारे और स्लोगन से लोगों का ध्यान इस ज्वलंत विषय पर दिलाया। बच्चों ने संदेश दिया कि यदि समय रहते हुए सभी मिल कर प्रदूषण के खिलाफ जंग नहीं लड़ते हैं तो आने वाले समय में लोगों को सांस लेना दूभर हो जायेगा। वायु प्रदूषण का सबसे अधिक असर बच्चों पर ही पड़ रहा है। बच्चे ही विभिन्न बीमारियों से ग्रस्त हो गये तो देश का भविष्य कौन संवारेगा।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करे

वायु प्रदूषण का खतरनाक स्तर पर पहुंचना सभी के लिए चिंता का विषय बनता जा रहा है। हर साल की तरह इस साल भी प्रदूषण में लगातार वृद्धि होती जा रही है और सरकार इसे रोकने में नाकामयाब साबित हो रही है। यह बाते वायु प्रदूषण के प्रति लोगों में जाकरूकता लाने के लिए बच्चों द्वारा निकली गई रैली में इनिशिएटिव फाउन्डेशन इंडिया की युवा टीम लीडर शालिनी ने कही।

वही कार्यक्रम में इनिशिएटिव फाउन्डेशन इंडिया की समन्वयक पूजा ने कहा की बच्चों के शरीर के हर अंग को नुकसान पहुंचाता है वायु प्रदूषण। वैज्ञानिक कहते रहे हैं कि प्रदूषित इलाकों में रहने वाले लोगों में श्वास तथा अन्य रोगों का जोखिम बहुत ज्यादा होता है। वायु प्रदूषण मानव शरीर के प्रत्येक अंग को हानि पहुंचा सकता है। दूषित वायु से शरीर को सिर से पैरों तक हानि पहुंचती है।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

यह दिल व फेफड़ों की बीमारियों, डायबिटीज, डिमेंशिया, यकृत की समस्याओं एवं मूत्राशय के कैंसर, हड्डियों के शिथिल पडऩे और त्वचा तक को पहुंचने वाली हानि के लिए जिम्मेदार हो सकता है। बच्चे भी विषाक्त हवा से प्रभावित हो रहे हैं। इसलिए वायु प्रदूषण को समाप्त करने के लिए हम सभी को मिलकर आगे आना होगा। जागरूकता रैली में जगह जगह लोगों को पर्यावरण संरक्षण का संकल्प दिलाया गया। आज के अभियान में कृति, ज्योति, अनामिका, खुशबू, अंजलि, प्रियंका, शिवराज, सोनी, श्याम, जीतेन्द्र आदि शामिल रहे।

Monday, 11 October 2021

भारत के विदेशी पर्यटकों के लिए फिर खुले दरवाज़े

 

भारत के विदेशी पर्यटकों के लिए फिर खुले दरवाज़े

इर्ना की रिपोर्ट के अनुसार मार्च सन 2020 के बाद यह पहली बार है जब विदेशी पर्यटक भारत में आ सकेंगे।

कोरोना के बढ़ते हुए ख़तरे के दृष्टिगत भारत की सरकार ने देश में विदेशी पर्यटकों के प्रवेष पर प्रतिबंध लगा दिया था।....आगे पढें

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

Friday, 8 October 2021

RCB को प्ले ऑफ से पहले हौसला बढ़ाने वाली जीत मिली, अंतिम गेंद पर दिल्ली को हराया

 

RCB को प्ले ऑफ से पहले हौसला बढ़ाने वाली जीत मिली, अंतिम गेंद पर दिल्ली को हराया

दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में आरसीबी और दिल्ली के बीच खेले गए मैच में RCB के विकेटकीपर एस. भारत ने आखिरी गेंद पर छक्का जड़कर दिल्ली से जीत को छीन लिया. दिल्ली से जीत के लिए मिले 165 रनों के लक्ष्य को RCB ने तीन विकेट खोकर पूरा कर लिया।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

मुश्किल हालात में खेलने उतरे विकेटकीपर एस. भरत (नाबाद 78) और ग्लेन मैक्सवेल (नाबाद 51) ने मिलकर दिल्ली को अंतिम लीग मैच में जीत से महरूम कर दिया. एक समय आखिरी दो ओवरों में बेंगलोर को जीतने के लिए 19 रन बनाने थे और जब 19वें ओवर में नॉर्जे ने सिर्फ 4 रन दिए, तो लगा कि जीत तो दिल्ली की हो गयी! यहीं से रोमांच बढ़ना शुरू हुआ.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

आखिरी गेंद पर बेंगलोर को जीतने के लिए जब पांच रन बनाने थे, तब आवेश खान फुलटॉस फेंक बैठे और. एस. भरत ने इसे छक्के में तब्दील कर बेंगलोर को शानदार जीत दिला दी.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

इससे पहले दिल्ली ने टीम विराट के सामने जीत के लिए 165 रनों का लक्ष्य रखा. दिल्ली को शुरुआती दस ओवरों में 88 रन जोड़कर पृथ्वी शॉ (48) और शिखर धवन (43) ने शानदार शुरुआत दी. स्लॉग ओवरों में शिमरोन हैटमायर (29) ने हाथ दिखाए. सिराज ने सबसे ज्यादा दो विकेट लिए.

योगी जी कब चलेगा लखीमपुर नरसंहार के दोषियों के घर पर बुल्डोजर: अजय कुमार लल्लू

योगी जी कब चलेगा लखीमपुर नरसंहार के दोषियों के घर पर बुल्डोजर: अजय कुमार लल्लू

 लखीमपुर नरसंहार पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलकर उन्हें राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में राष्ट्रपति से लखीमपुर कांड के दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी और अजय मिश्र टेनी को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के पद से बरखास्त करने की मांग की गयी है। इसके अलावा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष श्री लल्लू ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से पूछा है कि लखीमपुर के दोषियों के घर बुलडोजर कब चलाया जाएगा। दोषियों के पोस्टर कब सड़कों पर लगाये जायेंगे?

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

राज्यपाल को सौंपे गये कांग्रेस के ज्ञापन में कहा गया है कि लखीमपुर में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे किसानों को गाड़ियों से कुचलने की अमानवीय घटना से पूरा देश स्तब्ध है, लेकिन राज्य सरकार ने इस संबंध में संवेदना व्यक्त करने जा रहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी को अवैध रूप से गिरफ्तार करके उनके साथ दुर्व्यवहार किया जो लोकतंत्र की हत्या है। उन्हें चार दिन तक सीतापुर पीएसी कंपाउंट में बंधक बनाकर रखा गया। यही नहीं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को एयरपोर्ट से लौटा दिया गया और राष्ट्रीय नेता राहुल गाँधी को भी लंबे समय तक रोका गया। ज्ञापन में कहा गया है कि माननीय राष्ट्रपति इन घटनाओं का संज्ञान लेकर कार्रवाई करें।

इससे पहले ज्ञापन देने पहुँचे कांग्रेस नेताओं को राजभवन में प्रवेश की अनुमति नहीं मिली। इस पर नाराज़ पार्टी नेताओं ने राजभवन के बाहर ही धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। भारी तादाद में जुटे कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू ने कहा कि तानाशाह योगी सरकार अपने नाकामियों को छिपाने जनता की आवाज बुलंद करने वाले कांग्रेस नेताओं का उत्पीड़न कर रही है। योगी जी बार बार अपराधियों के घर बुलडोजर चलवाने की धमकी देते हैं, वे बतायें कि लखीमपुर कांड के दोषियों के घर बुलडोजर कब चलेंगे और उनके चेहरे वाले पोस्टर सार्वजनिक स्थलों पर कब लगाये जायेंगे?

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

कांग्रेस विधानमंडल दल नेता आराधना मिश्रा “मोना“ ने कहा कि पूरे प्रदेश में भय का वातावरण बनाकर बीजेपी गरीबों मजलूमों की आवाज दबा रही है। भारतीय संविधान के साथ खिलवाड़ करने के साथ ही तानाशाही आपराधिक रवैया अपना कर लोकतंत्र की हत्या करने में योगी सरकार ज़रा भी नहीं हिचकती।

विधानपरिषद में कांग्रेस नेता दीपक सिंह ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार किसानों की आय दोगुनी करने की बात करती थी लेकिन उनकी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य देने से मुकर गई। आज देश के किसान आंदोलित हैं। दिल्ली को घेरे बैठे हैं। आंदोलन कुचलने में नाकाम रही सरकार किसानों को कुचलने में जुट गयी है। केंद्रीय गृहराज्यमंत्री किसानों को दो मिनट में ठीक करने का ऐलान करते हैं तो हरियाणा के मुख्यमंत्री भाजपा कार्यकर्ताओं को हाथ में लट्ठ लेकर किसानों पर टूट पड़ने की सीख दे रहे हैं।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि जब तक केंद्रीय गृहराज्यमंत्री अजय मिश्र को बरखास्त नहीं किया जाता तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। कांग्रेस किसानों की लड़ाई में पूरी तरह साथ है। कांग्रेस नेताओं के आक्रोश को देखते हुए बाद में राजभवन से मुलाकात की अनुमति दी गयी। प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, विधानमंडल दल नेता अराधना मिश्र और विधानपरिषद सदस्य दीपक सिंह, कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, राष्ट्रीय सचिव अनिरुद्ध सिंह, पूर्व विधायक पंकज मलिक, पूर्व विधायक अमरेश पांडेय शामिल थे। इसके अलावा राजभवन पर हुए प्रदर्शन में कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शहनवाज़ आलम, एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष अनस रहमान, यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ओमवीर यादव, आरटीआई विभाग के चेयरमैन पुष्पेंद्र श्रीवास्तव, सोशल आउटरीच विभाग के संयोजक विक्रम पांडेय, कांग्रेस प्रदेश महासिचव विदित चौधरी, कांग्रेस प्रवक्ता अंशू अवस्थी और सचिन रावत समेत बड़ी तादाद में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

आर्यन खान के पास से कुछ नहीं मिला, कोर्ट में एनसीबी ने कहा, आज मिल सकती है ज़मानत

 

आर्यन खान के पास से कुछ नहीं मिला, कोर्ट में एनसीबी ने कहा, आज मिल सकती है ज़मानत
क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान समेत 7 आरोपियों को न्या‍यिक हिरासत में भेज दिया गया है. हालांकि इन सभी आरोपियों को एक रात और एनसीबी के दफ्तर में बितानी होगी. अब इस मामले में अगली सुनवाई आज सुबह होगी.

कोर्ट में एनसीबी ने खुद कहा कि आर्यन खान के पास से कुछ नहीं मिला. लेकिन अभी उन्हें 11 अक्टूबर तक आरोपियों की कस्टडी चाहिए, लेकिन अदालत ने एनसीबी की दलील खारिज कर दी. अदालत ने साफ कहा कि आपको काफी वक्त दिया गया, जो अपने आप में काफी है. इसके बाद कोर्ट ने आर्यन समेत सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया. अब कोर्ट का यह फैसला एनसीबी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. अब मामले की सुनवाई आज सुबह 11 बजे होगी.

इस मामले में सुनवाई शुरु होने के बाद ही अदालत का नजरिया देखकर साफ हो गया था कि अब एनसीबी को आगे कस्टडी नहीं मिलेगी. अब इस केस में न्यायिक हिरासत मिलने के बाद आर्यन खान के वकील ने अदालत में जमानत के लिए दो अर्जी दाखिल की हैं. एक अंतरिम जमानत की अर्जी और दूसरी नियमित जमानत याचिका. अब अदालत आर्यन की जमानत पर शुक्रवार की सुबह 11 बजे सुनवाई करेगी.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

न्यायिक हिरासत में होने के बाद भी आर्यन समेत सभी आरोपी जेल जाने की बजाए एनसीबी दफ्तर की हवालात में गुजारेंगे. क्योंकि अदालत ने न्यायिक हिरासत का फैसला जिस वक्त सुनाया उस वक्त 7 बज चुके थे. इसके बाद आरोपियों को जेल में भेजना मुश्किल हो जाता है. क्योंकि इसकी एक लंबी प्रकिया होती है. बचाव पक्ष के एक वकील ने बताया कि न्यायिक हिरासत में जेल भेजना इसलिए मुमकिन नहीं था कि क्योंकि आरोपियों के पास कोविड सर्टिफिकेट नहीं था .

आर्यन समेत सभी 7 आरोपियों को एनसीबी दफ्तर की तीसरी मंजिल पर बने हवालात में रखा जाएगा, लेकिन एनसीबी के अधिकारी अब उनसे पूछताछ नहीं कर पाएंगे. मजिस्ट्रेट ने कहा कि बिना कोविड टेस्ट रिपोर्ट के कोई भी जेल उन्हें एंट्री नहीं दे सकती है. साथ ही मजिस्ट्रेट ने यह भी कहा कि उनके परिवार वाले उनसे मुलाकात कर सकते हैं.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

आर्यन के वकील ने कहा कि अभी अंतरिम जमानत पर सुनवाई होनी चाहिए. इसके बाद जज ने कहा कि मैं आज सुबह 11 बजे जमानत पर सुनवाई कर सकता हूं. उधर, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो आर्यन खान की जमानत का विरोध करता रहा. लेकिन आर्यन के वकील ने पुख्ता दलील देकर कहा कि उन्हें जमानत दी जा सकती है.

भारी बारिश का केरल में कहर, हुई अबतक 21 लोगों की मौतें

 केरल में भारी बारिश और भूस्खलन का क़हर जारी है। इस आपदा मरने वालों की संख्या अब 21 हो गई है। केरल के कोट्टायम में 13 और इडुक्की में 8 जनों ...